संजय राउत का दावा- केंद्र के एक मंत्री शरद पवार को दे रहे हैं धमकी

News18 | 2 days ago | 24-06-2022 | 04:05 pm

संजय राउत का दावा- केंद्र के एक मंत्री शरद पवार को दे रहे हैं धमकी

मुंबई. महाराष्ट्र में सियासी घमासान के बीच शिवसेना के सांसद संजय राउत ने दावा किया है कि केंद्र के एक मंत्री एनसीपी प्रमुख शरद पवार को धमकी दे रहे हैं. उन्होंने ये भी कहा है कि ये धमकी उन्हें और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को भी दी जा रही है. राउत के मुताबिक ये चेतावनी महाविकास अघाड़ी सरकार को बचाने को लेकर है. इन आरोपों को लेकर उन्होंने एक ट्वीट भी किया है. बता दें कि महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे की सरकार मुश्किलों में घिर गई है. शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे करीब 40 विधायकों के साथ गुवाहाटी में डटे हैं.शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘एनसीपी प्रमुख शरद पवार को बीजेपी के एक केंद्रीय मंत्री धमकी दे रहे हैं. मुझे और उद्धव ठाकरे को भी धमकी दी जा रही है. धमकी में कहा गया है कि अगर हम महाविकास अघाड़ी सरकार को बचाने की कोशिश करेंगे तो वो शरद पवार को घर नहीं जाने दिया जाएगा. सरकार रहेगी या जाएगी… लेकिन महाराष्ट्र शरद पवार के बारे में ऐसी भाषा को स्वीकार नहीं करता है. हमें पूरा विश्वास है कि सदन में एमवीए के पास नंबर होंगे.’बीजेपी ने किया खारिजभाजपा नेता रावसाहेब पाटिल दानवे ने राउत के इन दावों के सिरे से खारिज कर दिया है. समचार एजेंसी ANI से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा, ‘कोई केंद्रीय मंत्री धमकी नहीं दे रहा है. बीजेपी सरकार को अस्थिर करने की कोशिश नहीं कर रही है. यह शिवसेना का अंदरूनी मामला है.’शिंदे से बातचीत के लिए तैयार है शिवसेनाबता दें कि पार्टी के वरिष्ठ नेता एकनाथ शिंदे की बवागत से जूझ रही शिवसेना ने अपने रुख में बड़े बदलाव का संकेत दिए हैं. पार्टी नेता संजय राउत ने कहा है कि असम में डेरा डाले हुए बागी विधायक 24 घंटे के भीतर मुंबई लौटते हैं और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ अपनी शिकायतों पर चर्चा करते हैं पार्टी महाराष्ट्र के सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी (एमवीए) गठबंधन को छोड़ने पर विचार करने के लिए तैयार है‘ 24 घंटे में मुंबई वापस आएं’राउत ने कहा, ‘आप कहते हैं कि आप असली शिवसैनिक हैं और पार्टी नहीं छोड़ेंगे. हम आपकी मांग पर विचार करने के लिए तैयार हैं, बशर्ते आप 24 घंटे में मुंबई वापस आएं और सीएम उद्धव ठाकरे के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करें. ट्विटर और वॉट्सऐप पर चिट्ठी मत लिखिए. अगर इन सभी विधायकों को लगता है कि शिवसेना को एमवीए से बाहर निकलना चाहिए, तो मुंबई वापस आने की हिम्मत दिखाएं. आप कहते हैं कि आपको सिर्फ सरकार के साथ परेशानी है और यह भी कहते हैं कि आप सच्चे शिवसैनिक हैं…आपकी मांग पर विचार किया जाएगा, लेकिन आएं और उद्धव ठाकरे से बात करें.’क्या है NCP का रुख?इस बीच पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ‘यू-टर्न’ लेंगे और सत्तारूढ़ एमवीए से बाहर होने की शिवसेना के बागी विधायकों की मांग पर सहमत होंगे. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा कि उनकी पार्टी ने अभी तक राउत की टिप्पणियों पर चर्चा नहीं की है. उन्होंने कहा, ‘लेकिन हम चाहते हैं कि यह सरकार अपना कार्यकाल पूरा करे, क्योंकि इसने कुछ अच्छे फैसले लिए हैं.’ (भाषा इनपुट के साथ)ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |Tags: Sanjay raut, Sharad pawar, Uddhav thackeray

Google Follow Image