'सामना' में बागी एकनाथ शिंदे और विधायकों को बताया बेईमान, BJP पर लगाया शिवसेना में फूट डालने का आरोप

News18 | 6 days ago | 22-06-2022 | 09:05 pm

'सामना' में बागी एकनाथ शिंदे और विधायकों को बताया बेईमान, BJP पर लगाया शिवसेना में फूट डालने का आरोप

मुंबई. महाराष्ट्र की राजनीति में बीते मंगलवार से ही भूचाल आया हुआ है. शिवसेना की तरफ से लगातार बागी विधायकों को लेकर बयान दिया जा रहा है. वहीं पार्टी के मुखपत्र सामना के संपादकीय में शिवसेना ने पार्टी से बगावत करनेवाले एकनाथ शिंदे और बाकी विधायकों को बेइमान कहा है. साथ ही उनपर शिवसेना पार्टी जैसी मां का दूध बेचने का आरोप लगाया है. संपादकीय में शिवसेना ने बीजेपी को ईस्ट इंडिया कंपनी कहा और जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा बीजेपी ही शिवसेना विधायकों के दिमाग में बगावत के बीज बो रही है. सामना में शिवसेना ने बीजेपी पर शिवसेना विधायकों के अपहरण करने और ना मानने वालों के साथ मारपीट करने का गंभीर आरोप लगाया.साथ ही यह भी कहा कि नितिन देशमुख की पिटाई के चलते उन्हें हार्टअटैक आया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मुखपत्र सामना में शिवसेना ने लिखा कि महाराष्ट्र की सरकार गिराने के लिए भाजपा वाले एक भी मौका नहीं छोड़ते हैं. ढाई साल पहले अजीत पवार प्रकरण शुरू हुआ था. उसमें सफलता नहीं मिली. अब वही बेचैन आत्माएं एकनाथ शिंदे की गर्दन पर बैठकर ऑपरेशन कमल कर रही हैं. इसके अलावा सामना में शिवसेना ने लिखा कि मुंबई पर कब्जा करना है तो शिवसेना को अस्थिर करो यही महाराष्ट्र द्रोहियों की नीति है. लेकिन महाराष्ट्र सयानों का राज्य है. सयानेपन में महाराष्ट्र अन्य राज्यों से दो कदम आगे रहता है.इसके अलावा मुखपत्र में आगे लिखा, महाराष्ट्र में सत्ता की मस्ती नहीं चलेगी. केंद्रीय सत्ता की मस्ती दिखाकर महाराष्ट्र में तोड़-फोड़ की राजनीति शुरू है. मां का दूध बेचने वाली औलाद शिवसेना में नहीं, ऐसा शिवसेना प्रमुख हमेशा कहते थे. ऐसे लोग शिवसेना में पैदा हों, यह महाराष्ट्र की मिट्टी से बेईमानी है. शिवसेना मां है. उनकी कसमें खाकर राजनीति करने वालों ने मां के दूध का बाजार शुरू कर दिया है. उस बाजार के लिए सूरत का चुनाव किया गया.बता दें कि शिवसेना नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री एकनाथ शिंदे पार्टी के कई विधायकों व निर्दलीय विधायकों को लेकर असम पहुंच गए हैं. हालांकि गुवाहाटी एयरपोर्ट पर पहुंचने के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने दावा किया कि उनके पास 40 विधायकों का समर्थन है और अभी 10 और विधायक आएंगे. समाचार एजेंसी भाषा से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा, ‘ यहां 40 विधायक मेरे साथ हैं. इनके अलावा 10 और विधायक जल्द मेरे साथ आएंगे. मैं किसी की आलोचना नहीं करना चाहता. हम उस शिवसेना को बनाए रहने के इच्छुक हैं जिसे दिवंगत बाला साहेब ठाकरे ने बनाया था.’ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |Tags: Maharashtra

Google Follow Image