Maharashtra Politics: आज फिर दिल्ली में मुजरा करने गए हैं, बोलने की तो हिम्मत नहीं, शिंदे पर उद्धव का तंज

India | 2 weeks ago | 22-09-2022 | 12:13 pm

Maharashtra Politics: आज फिर दिल्ली में मुजरा करने गए हैं, बोलने की तो हिम्मत नहीं, शिंदे पर उद्धव का तंज

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र की राजनीति में लंबे समय से घमासान चल रहा है और शिंदे गुट-उद्धव गुट में तकरार जारी है. हाल ही में पंचायत चुनाव रिजल्ट के बाद तल्खी और बढ़ गई है. वहीं उद्धव ठाकरे ने तंज कसते हुए शिंदे पर कड़ा प्रहार किया है और कहा है कि वह (सीएम एकनाथ शिंदे) आज फिर दिल्ली में ‘मुजरा’ करने गए हैं… महाराष्ट्र के प्रोजेक्ट दूसरे राज्यों में क्यों जाते हैं? वह इस बारे में पीएम से बात क्यों नहीं करते? क्या उस पर बोलने की हिम्मत नहीं है?Also Read - गृह मंत्रालय ने बंद किए CAPF को दिए जाने वाले तीन पुरस्कार, क्या है वजह?महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने उद्धव के बयान पर जवाब दिया है और कहा है कि हमारी पार्टी कोई प्राइवेट लिमिटेड कंपनी नहीं है, यहां कोई नौकर नहीं है. हम बालासाहेब ठाकरे के असली विचारों को आगे बढ़ाने वाली पार्टी हैं. एकनाथ शिंदे ने कहा वेदांता का दूसरा इन्वेस्टमेंट महाराष्ट्र आएगा और मैंने इसके लिए पीएम मोदी और अमित शाह से बात की है. लोग बेवजह का आरोप लगा रहे हैं. Also Read - Lalu VS BJP: लालू यादव ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा ' झुकेगा नहीं, 2024 में बीजेपी को उखाड़ फेकेगा' | Watch Videoएकनाथ शिंदे ने उद्धव के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि आप हमें देशद्रोही कहते हैं, सत्ता के लिए बालासाहेब के विचारों को आपने छोड़ दिया, तो देशद्रोही कौन है? उन्होंने कहा कि देशद्रोह हमारे खून में नहीं है. ये जनता है, वो सब जानती है कि देशद्रोही कौन है और खुद्दार कौन? शिंदे ने कहा कि लोगों ने आपको खारिज कर दिया है, क्योंकि आप एनसीपी और कांग्रेस के साथ गए थे. Also Read - गृह मंत्री अमित शाह और BJP को उद्धव ठाकरे की चुनौती- 'साथ कराएं BMC और विधानसभा चुनाव फिर...'उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर लगाया झूठ बोलने का आरोपउद्धव ठाकरे ने भारतीय जनता पार्टी पर 1.54 लाख करोड़ रुपये की वेदांता-फॉक्सकॉन सेमीकंडक्टर परियोजना के बारे में ‘झूठ बोलने’ का भी आरोप लगाया, जिसे गुजरात में स्थानांतरित कर दिया गया है. गोरेगांव उपनगर में पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए, ठाकरे ने कहा कि केंद्र सरकार इस परियोजना को भाजपा शासित राज्य में स्थानांतरित करने के बाद भारी प्रोत्साहन दे रही है.

Google Follow Image