Maharashtra: नुपुर शर्मा का समर्थन करने पर अहमदनगर में युवक पर हमला, हालत गंभीर

Jagran | 4 days ago | 06-08-2022 | 08:05 am

Maharashtra: नुपुर शर्मा का समर्थन करने पर अहमदनगर में युवक पर हमला, हालत गंभीर

मुंबई, राज्य ब्यूरो। Maharashtra Crime: भारतीय जनता पार्टी (BJP)से निलंबित की जा चुकीं पार्टी प्रवक्ता नुपुर शर्मा (Nupur Sharma)का समर्थन करने वालों पर हमले रुक नहीं रहे हैं। गुरुवार को ऐसे ही एक हमले में महाराष्ट्र के अहमदनगर का एक युवक बुरी तरह घायल हो गया है। अस्पताल में उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। हमले का शिकार हुआ प्रतीक पवार गुरुवार शाम अपने एक मित्र अमित माने के साथ मोटरसाइकिल से कहीं जाने के लिए निकला था। दोनों युवक कर्जत कस्बे के अक्कबाई चौक पर एक मेडिकल स्टोर के सामने रुक कर किसी का इंतजार कर रहे थे।Patra Chawl Scam: संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत से ED ने नौ घंटे की पूछताछ यह भी पढ़ें चाकू, सरिया और हाकी से किया युवक पर हमला प्रतीक के मित्र द्वारा लिखाई गई प्राथमिकी के अनुसार, तभी कुछ मोटरसाइकिलों पर 14-15 मुस्लिम युवक वहां आए। उनमें से एक ने चिल्लाकर प्रतीक से पूछा कि तुमने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट पर हमारे पैगंबर साहब का अपमान करने वाली नुपुर शर्मा का समर्थन क्यों किया था ? इसके अलावा उसने उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या पर भी पोस्ट डालने पर एतराज जताया। इसी बीच, एक हमलावर ने प्रतीक की आंख पर हमला कर दिया। प्रतीक गिर गया तो सभी हमलावर मिलकर उस पर चाकू, सरिया, हाकी और लोहे की चेन से हमला करने लगे। कुछ देर बाद वे उसे अचेत छोड़ कर भाग गए।युवक के शरीर पर 34 टांके लगे हमलावरों के जाने के बाद अमित माने ने फोन करके अपने कुछ मित्रों को बुलाया और सब मिलकर प्रतीक को निकट के सरकारी अस्पताल ले गए। अस्पताल में प्रतीक के शरीर पर 34 टांके लगे हैं। उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। प्रतीक पवार की ओर से थाने में रिपोर्ट भी अमित माने ने ही दर्ज करवाई है। पुलिस ने हमलावरों पर आइपीसी की धारा 307 (हत्या की कोशिश) सहित कुछ और धाराओं के तहत 14 लोगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की है।Mumbai: ऑरिजिनल टीवी, मोबाइल बदलकर डिब्बों में रखते थे नकली सामान, पुलिस ने दो डिलीवरी बॉय को किया गिरफ्तार यह भी पढ़ें चार गिरफ्तार इस मामले में अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है, लेकिन पुलिस अभी खुलकर यह नहीं कह रही है कि यह हमला नुपुर शर्मा के समर्थन में इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट डालने के कारण ही हुआ है। चूंकि प्रतीक का पहले से कुछ आपराधिक रिकार्ड रहा है, इसलिए पुलिस कई और कोणों से मामले की जांच कर रही है। उसे इस हमले के पीछे निजी दुश्मनी का भी शक है। इससे पहले महाराष्ट्र के ही अमरावती जिले में नुपुर शर्मा का समर्थन करने के कारण एक दवा व्यवसायी उमेश कोल्हे की निर्ममतापूर्वक हत्या की जा चुकी है।

Google Follow Image