Mumbai Fire: मुंबई के सेवरी में हे बंदर के पास लगी आग

Jagran | 4 days ago | 06-08-2022 | 04:10 am

Mumbai Fire: मुंबई के सेवरी में हे बंदर के पास लगी आग

मुंबई, मिड डे। Mumbai Fire: महाराष्ट्र में मुंबई के सेवरी में रेती बंदर रोड पर हे बंदर के पास शनिवार अपराह्न करीब सवा बजे अचानक आग लग गई। आग लगने से चारों ओर धुआं फैल गया। आग की चपेट में आने से घरेलू सामान जल गया। हादसे में जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है। अभी तक हादसे के कारणों का पता नहीं चल सका है।आग से जला घरेलू सामान मुंबई फायर ब्रिगेड (एमएफबी) के अनुसार, 15-20 झोपड़ियों में अचानक आग लगने से घरेलू सामान जल गया, हादसे में किसी के घायल होने की कोई खबर नहीं है। दमकल विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि मौके पर दमकल की तीन गाड़ियां भेजी गई हैं। घटना की जानकारी देते हुए बीएमसी अधिकारी ने कहा कि 15-20 झोपड़ियों में आग लगने से घरेलू सामान जल गया।Mumbai: ऑरिजिनल टीवी, मोबाइल बदलकर डिब्बों में रखते थे नकली सामान, पुलिस ने दो डिलीवरी बॉय को किया गिरफ्तार यह भी पढ़ें समाचार एजेंसी प्रेट्र के मुताबिक,दक्षिण मुंबई के सेवरी इलाके में शनिवार दोपहर को झोपड़ियों में आग लग गई, जिसमें एक दमकलकर्मी घायल हो गया। हालांकि इनमें रहने वाले लोग सुरक्षित हैं। एक अधिकारी ने कहा कि हे बंदर इलाके में दोपहर करीब 1.15 बजे लगी आग मुख्य रूप से बिजली के तारों तक ही सीमित रही। छोटे कमरों वाली 20 झुग्गियां जलकर खाक हो गईं। उन्होंने कहा कि आग में मुख्य रूप से घरेलू सामान जल गया, दोपहर करीब साढ़े तीन बजे दो घंटे से अधिक समय के बाद आग पर काबू पाया गया।आग बुझाने के दौरान एक दमकलकर्मी संतोष मुंटोडे को मामूली चोटें आईं। अधिकारी ने कहा कि उसे एक निजी अस्पताल ले जाया गया और इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई।मध्य मुंबई के परेल में नौरोजी वाडिया बाल अस्पताल में शुक्रवार शाम आग लग गई थी, लेकिन इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ।इमारत में धुआं फैलते ही कुछ मरीजों को सुरक्षित जगह पर शिफ्ट कर दिया गया था, करीब डेढ़ घंटे के भीतर आग पर काबू पा लिया गया था। शाम करीब साढ़े छह बजे ट्रस्ट द्वारा संचालित अस्पताल की पहली मंजिल पर एक बाल चिकित्सा आपरेशन थियेटर के पास आग लगी। दमकल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि दमकल की आठ गाड़ियां और छह पानी के टैंकर मौके पर भेजे गए।Mumbai: दोस्त ने ही किया था सूरज का कत्ल, CCTV से हुआ उभरते सिंगर की मौत का खुलासा यह भी पढ़ें कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया। अधिकारी ने कहा कि आग ग्राउंड प्लस दो मंजिला इमारत की पहली मंजिल पर यूपीएस रूम में बिजली के तारों, बिजली के इंस्टालेशन, सेंट्रल एसी, दरवाजे, खिड़कियों और लकड़ी के विभाजन तक सीमित थी। उन्होंने कहा कि इमारत की पहली और दूसरी मंजिल धुएं से भर गई और नजदीकी वार्ड में मरीजों को कर्मचारियों की मदद से सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। अधिकारियों ने बताया कि आग के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया।

Google Follow Image