शिवाजी पार्क में दशहरा रैली नहीं कर पाएंगे उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे, BMC ने अनुमति देने से किया इनकार

India | 5 days ago | 22-09-2022 | 12:11 pm

शिवाजी पार्क में दशहरा रैली नहीं कर पाएंगे उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे, BMC ने अनुमति देने से किया इनकार

Uddhav Thackeray Dussehra rally: बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने शिवसेना के उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले गुट और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले गुट को मुंबई के शिवाजी पार्क में दशहरा रैली के आयोजन की अनुमति नहीं दी. बीएमसी के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. बीएमसी के अधिकारियों के अनुसार, मुंबई पुलिस द्वारा उठाए गए कानून व्यवस्था से संबंधित मुद्दों के आधार पर शिवाजी पार्क में रैली आयोजन की अनुमति देने से इनकार किया गया. बीएमसी आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने बताया कि बीएमसी प्रशासन ने शिवसेना के दोनों गुटों को पांच अक्टूबर को दशहरा के अवसर पर शिवाजी पार्क में एक रैली के आयोजन की अनुमति देने से इनकार कर दिया है.Also Read - उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना मुंबई के शिवाजी पार्क में दशहरा रैली आयोजन के लिए हाईकोर्ट पहुंचीअधिकारियों ने बताया कि बीएमसी ने पत्र भेजकर दोनों गुटों को अनुमति नहीं देने की जानकारी दी है. ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना के अनिल देसाई ने 22 अगस्त को बीएमसी को मध्य मुंबई के प्रतिष्ठित पार्क में रैली आयोजित करने की अनुमति के लिए आवेदन किया था. बाद में 30 अगस्त को शिंदे गुट के विधायक सदा सर्वंकर ने भी दशहरा रैली आयोजित करने के लिए बीएमसी के जी-नॉर्थ वार्ड से अनुमति को लेकर आवेदन किया था. पिछले हफ्ते शिंदे गुट को मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स के एमएमआरडीए मैदान में एक रैली करने की अनुमति मिली थी. Also Read - Dussehra Rally: उद्धव नीत शिवसेना का ऐलान- 'अनुमति मिले या न मिले, शिवाजी पार्क में करेंगे दशहरा रैली'वहीं, बंबई हाई कोर्ट उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले शिवसेना गुट की उस याचिका पर आज सुनवाई करेगा, जिसमें मुंबई के ऐतिहासिक शिवाजी पार्क में पांच अक्टूबर को दशहरा रैली का आयोजन करने की अनुमति देने की मांग की गई है. तत्काल सुनवाई का अनुरोध करने वाली इस याचिका को बुधवार को न्यायमूर्ति आर डी धनुका और न्यायमूर्ति कमल खाता की खंडपीठ के समक्ष पेश किया गया. पीठ ने मामले की सुनवाई के लिए बृहस्पतिवार का दिन मुकर्रर किया. Also Read - दशहरा रैली की जगह को लेकर शिवसेना संग चल रही खींचतान पर शरद पवार ने CM शिंदे को दी सलाहउद्धव गुट ने अपनी याचिका में कहा कि शिवसेना 1966 से हर साल शिवाजी पार्क में दशहरा रैली का आयोजन कर रही है और बीएमसी (बृहन्मुंबई महानगर पालिका) ने हमेशा इसकी अनुमति दी है. इस साल जून में शिवसेना में एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले गुट के विद्रोह के बाद उद्धव नीत महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार गिर गई थी. एमवीए गठबंधन में शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस शामिल थीं. बाद में शिंदे ने मुख्यमंत्री के रूप में और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के देवेंद्र फडणवीस ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी. उद्धव के नेतृत्व वाली शिवसेना और शिंदे नीत प्रतिद्वंद्वी गुट, दोनों ने शिवाजी पार्क में अपनी-अपनी दशहरा रैलियां आयोजित करने की अनुमति मांगी है.शिवसेना के एकनाथ शिंदे गुट के विधायक सदा सर्वंकर ने बंबई उच्च न्यायालय में बृहस्पतिवार को याचिका दायर कर उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले गुट को मुंबई के शिवाजी पार्क में वार्षिक दशहरा रैली के आयोजन की अनुमति देने संबंधी याचिका पर सुनवाई या फैसला नहीं करने का अनुरोध किया है. सर्वंकर ने कहा कि अगर उच्च न्यायालय ने इस मुद्दे पर कोई आदेश जारी किया तो इससे ‘‘वास्तविक शिवसेना का प्रतिनिधि कौन’’, के मुद्दे पर जारी विवाद में अड़चन आएगी.(इनपुट-भाषा)

Google Follow Image