शिवाजी पार्क में Dussehra Rally की इजाजत मिलने के बाद आया उद्धव ठाकरे का रिएक्शन, जानें क्या बोले शिवसेना प्रमुख

India | 1 week ago | 23-09-2022 | 08:23 pm

शिवाजी पार्क में Dussehra Rally की इजाजत मिलने के बाद आया उद्धव ठाकरे का रिएक्शन, जानें क्या बोले शिवसेना प्रमुख

Maharashtra News: मुंबई के शिवाजी पार्क (Shivaji Park) में दशहरा रैली (Dussehra Rally 2022) की इजाजत मिलने के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) का बयान आया है. उद्धव ने कहा कि बॉम्बे हाईकोर्ट के फैसले से न्यायपालिका में हमारा भरोसा मजबूत हुआ है. इसके साथ-साथ उद्धव ने कार्यकर्ताओं से भी रैली के दौरान अनुशासन बनाए रखने की अपील की है. उद्धव ने शिवसैनिकों (Shiv Sena) से दशहरा रैली में अनुशासन बनाए रखने और दशकों पुरानी परंपरा कलंकित ना हो यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है.Also Read - शिवाजी पार्क में उद्धव ठाकरे ही करेंगे दशहरा रैली, बॉम्बे हाईकोर्ट से टीम शिंदे को झटका; जानें पूरा मामलाउधर, फैसले का स्वागत करते हुए पार्टी की प्रवक्ता मनीषा कायान्डे ने कहा कि इस साल की रैली भव्य होगी. उन्होंने दावा किया कि BMC पर निश्चित ही कुछ दबाव रहा होगा, जिसके कारण उनसे अनुमति नहीं दी. शिवसेना के सचिव विनायक राउत ने कहा, ‘न्यायपालिका में हमारा भरोसा कायम रहा है. पिछले कई वर्षों से ‘शिव तीर्थ’ (शिवसेना शिवाजी पार्क को यही कहती है) में दशहरा रैली हो रही है, लेकिन इस साल शिंदे गुट और भाजपा ने मिलकर बाधा उत्पन्न करने का प्रयास किया. शुक्र है कि अदालत ने इसे खारिज कर दिया.’ Also Read - इनेलो की रैली में विपक्ष के नेताओं का होगा जमावड़ा, शरद पवार, उद्धव ठाकरे, नीतीश कुमार भी शामिल होंगेमहाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की अगुवाई वाले शिवसेना के गुट ने भी पांच अक्टूबर को शिवाजी पार्क में दशहरा रैली करने की अनुमति मांगी थी. हालांकि, बीएमसी ने दोनों गुटों को अनुमति देने से इनकार कर दिया और कहा कि किसी एक पक्ष को अनुमति देने से कानून-व्यवस्था की समस्या पैदा हो सकती है. न्यायमूर्ति आरडी धनुका और न्यायमूर्ति कमल खाता की खंडपीठ ने ठाकरे नीत शिवसेना गुट और उसके सचिव अनिल देसाई की, बृहन्नमुंबई महानगरपालिका के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका को अनुमति दे दी. अदालत ने कहा कि बीएमसी का आदेश ‘स्पष्ट रूप से कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग है.’ Also Read - RBI ने महाराष्ट्र के इस बैंक का लाइसेंस किया रद्द, जानें ग्राहकों को कैसे मिलेगा उनका पैसापीठ ने ठाकरे नीत शिवसेना को दो से छह अक्टूबर तक शिवाजी पार्क का उपयोग करने की अनुमति दी है, लेकिन साथ ही कानून-व्यवस्था बनाए रखने को कहा है. बॉम्बे हाईकोर्ट में दी गई याचिका में शिवसेना ने कहा कि पार्टी 1966 से हर साल शिवाजी पार्क में दशहरा रैली का आयोजन कर रही है और बीएमसी ने हमेशा इसकी अनुमति दी है. कोविड-19 महामारी के कारण सिर्फ 2020 और 2021 में रैली आयोजित नहीं की जा सकी थी. याचिका के अनुसार, 2016 में राज्य सरकार ने शिवाजी पार्क में केवल खेल गतिविधियों की ही अनुमति दी थी. उस समय राज्य सरकार ने गैर-खेल गतिविधियों के लिए वर्ष में कुछ दिन निर्धारित किए थे और उनमें दशहरा रैली भी शामिल थी.(इनपुट: भाषा)

Google Follow Image